IND vs AUS: Pakistan वाली मार खाएगा Australia, जरा पिच पर आए इस update को जान लीजिए

IND vs AUS: Pakistan वाली मार खाएगा Australia, जरा पिच पर आए इस update को जान लीजिए

Narendra Modi Stadium: World Cup का फाइनल मैच रविवार को Ahmedabad के Narendra Modi Stadium में India और Australia के बीच होगा। India की नजरें फाइनल में Australia को हराकर खिताब जीतने पर हैं। हालांकि Team India ने पूरे World Cup में एक श्रृंगार क्रम स्थापित किया और उसके प्रदर्शन पर हमेशा बातचीत हुई, कई मैचों में पिच के बारे में भी चर्चा हुई। अब फाइनल मैच से पहले ही पिच के बारे में एक बड़ा अपडेट सामने आया है। इस मैच को उसी पिच पर खेला जाएगा जिस पर India और India का मैच हुआ था। इस पिच के बारे में उठ रहे सभी सवालों का यही जवाब है।

3 तरीकों से designed किए गए 11 पिच

वास्तव में, Narendra Modi Stadium में कुल 11 पिच हैं यह कहा जाता है। लेकिन अब जब तय हो गया है कि मैच उसी पिच पर खेला जाएगा जिस पर India-Pakistan लीग मैच हुआ था, तो लोग स्पष्ट रूप से भूगोली पर जा रहे हैं। इस स्टेडियम में बनाए गए पिचों में तीन तरीके से निर्माण किए गए हैं। इनमें काली मिट्टी, लाल मिट्टी और दोनों मिट्टियों का मिश्रण शामिल है। काली मिट्टी के पिच सामान्यत: धीमे होते हैं। बताया गया था कि India और Pakistan के बीच खेले गए मैच का समान पिच था। जिसमें Pakistan team को India ने बुरी तरह से हराया। अब फाइनल उसी पिच पर होगा।

India-Pak match पिच की कहानी

अगर हम उस मैच की बात करें तो Pakistan team को 191 रनों पर बंडल किया गया था। इसके बाद, भारत ने शानदार बैटिंग की और सात विकेट से जीत हासिल की। इस पिच पर स्लो होने के कारण स्पिनर्स को भी काफी मदद मिल सकती है। विशेषज्ञों का मानना ​​है कि स्लो पिच के कारण गिरने के बाद गेंद batsman के पास पहुंचने के बाद वहीं रुक सकती है। वर्तमान में, Indian team के captain Rohit Sharma और coach Rahul Dravid ने भी स्टेडियम में आयोजित ऐचवॉल ट्रेनिंग सत्र के दौरान इस पिच की विस्तृत जाँच की है।

समग्रत: पिच कैसी है?

यदि हम इस स्टेडियम की पिचों की समग्र रचना की बात करें, तो वास्तव में यह एक उत्कृष्ट क्रिकेट पिच वाला स्टेडियम है। आंकड़ों के अनुसार, यहां की पिचें batsmen और bowlers दोनों के लिए अनुकूल रही हैं। यहां की औसत स्कोरिंग 260 रन है, जबकि पिछले कुछ वर्षों से ODI matches में औसत स्कोरिंग दर प्रति ओवर लगभग 5 रन होती है। विशेषज्ञ मानते हैं कि इस पिच पर पहले 10 overs में बॉल अच्छे से बाउंस कर सकता है, लेकिन बाद में पिच धीमा हो सकता है। हालांकि batsmen के लिए यह काफी आसान है, लेकिन सर्वश्रेष्ठ bowlers को यहां से मदद मिलने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *